अकेले हम ही शामिल नहीं हैं इस जुर्म में,
नजर जब मिली थी मुस्कराये तुम भी थे।
Akele Hum Hi Shamil Nahi Iss Jurm Mein,
Najar Jab Mili Thi Muskuraye Tum Bhi The.