अजब मौसम है मेरे हर कदम पर फूल रखता है,
मोहब्बत में मोहब्बत का फरिश्ता साथ चलता है,
मैं जब सो जाऊँ इन आँखों पे अपने होंठ रख देना,
यकीन आ जायेगा पलकों तले भी दिल धड़कता है।

Ajab Mausam Hai Mere Har Kadam Par Phool Rakhta Hai,
Mohabbat Mein Mohabbat Ka Farishta Saath Chalta Hai,
Main So Jaaun Inn Aankhon Pe Apne Honthh Rakh Dena,
Yaqeen Aa Jayega Palkon Tale Bhi Dil Dhadkta Hai.