हमारे आँसू पोंछ कर वो मुस्कुराते हैं,
इसी अदा से वो दिल को चुराते हैं,
हाथ उनका छू जाये हमारे चेहरे को,
इसी उम्मीद में हम खुद को रुलाते हैं।

Humare Aansoo Ponchh Kar Wo Muskurate Hain,
Isee Adaa Se Wo Dil Ko Churate Hain,
Haath Unka Chhoo Jaye Humare Chehre Ko,
Isee Ummeed Mein Hum Khud Ko Rulate Hain.