इसी कश्मकश का नाम मोहब्बत हैं,
आँखों में समंदर हो फिर भी प्यास रहती हैं।
Isee Kashmkash Ka Naam Mohabbat Hai,
Aankho Mein Samandar Ho Fir Bhi Pyaas Rahti Hai.