Press ESC to close

love shayari

Kuchh Haasil Karna Hi Pyar Ki Manzil Nahi Hoti

shayar 0 4

ना जाने मोहब्बत में कितने अफसाने बन जाते हैं,शमां जिसको जलाती है वो परवाने बन जाते हैं,कुछ हासिल करना ही प्यार की मंजिल नहीं होती,किसी को खोकर भी कुछ लोग…

Continue reading

Tumhein Neend Nahin Aati

shayar 0 4

Tumhein Neend Nahin Aati To Koi Aur Wajah Hogi,Ab Har Aib Ke Liye QasoorWar Ishq To Nahin.तुम्हें नींद नहीं आती तो कोई और वजह होगी,अब हर ऐब के लिए कसूरवार…

Continue reading

Hum Adhoore Reh Jate

shayar 0 3

मेरी तकमील में शामिल हैं कुछ तेरे हिस्से भी,हम अगर तुझसे न मिलते तो अधूरे रह जाते।Meri Takmeel Mein Shamil Hain Kuchh Tere Hisse Bhi,Hum Agar Tujhse Na Milte Toh…

Continue reading

Teri Mohabbat Meri Zindagi Ban Kar

shayar 0 7

वो दिल ही क्या जो किसी से वफ़ा ना करे,तुझे भूल कर हम जिएं कभी खुदा ना करे,रहेगी तेरी मोहब्बत मेरी जिंदगी बन कर,ये बात और है कि ज़िन्दगी वफ़ा ना करे।…

Continue reading

Hum Ne Mohabbat Uss Se Bhi Jyada Ki Hai

shayar 0 8

उसने मोहब्बत, मोहब्बत से ज्यादा की है,हम ने मोहब्बत उस से भी ज्यादा की है,अब वो किसे कहेगा मोहब्बत की इन्तेहां,हमने शुरुआत ही इन्तेहां से ज्यादा की है। Uss Ne Mohabbat, Mohabbat…

Continue reading

Tumhe Chahte Hain Ham

shayar 0 7

Ham Se Na Ho Sakegi Mohabbat Ki Numaish,Bas Itna Jante Hai Tumhe Chahte Hain Ham. हम से न हो सकेगी मोहब्बत की नुमाइश,बस इतना जानते है तुम्हे चाहते है हम।

Continue reading

Ki Saath Tera Ho Aur

shayar 0 5

Khvaahish-E-Zindagi BasItani Si Hai Ab Meri,Ki Saath Tera Ho AurZindagi Kabhi Khatm Na Ho. ख्वाहिश-ए-ज़िंदगी बसइतनी सी है अब मेरी,कि साथ तेरा हो औरज़िंदगी कभी खत्म न हो।

Continue reading

Karoge Kya Phir Mohabbat Mujhse

shayar 0 6

Ghayal Kar Ke Mujhe Usne Poochha,Karoge Kya Phir Mohabbat Mujhse,Lahoo-Lahoo Tha Dil Mera MagarHonthon Ne Kaha Beintha-Beintha. घायल कर के मुझे उसने पूछा,करोगे क्या फिर मोहब्बत मुझसे,लहू-लहू था दिल मेरा…

Continue reading